ये तीन कारण धोनी को बनाते हैं आईपीएल का सर्वश्रेष्ठ फिनिशर

क्रिकेट की दुनिया में सर्वश्रेष्ठ फिनिशर कहे जाने वाले पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) ने केवल अपने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में ही नहीं बल्कि जिस-जिस लेवल पर जाकर उन्होनें क्रिकेट खेला है अपनी इस काबिलियत को हर जगह दर्शाया है। इसमें चाहे हम आईपीएल की ही बात कर लें जहां कई बार देखा गया है कि माही मैच को अंतिम ओवरों में लेकर जाते हैं और अपने फिनिशिंग अंदाज में मैच को खत्म करते हैं।

तो आज इस आर्टिकल में हम आपको एम एस धोनी (MS Dhoni) के इस फिनिशिंग अंदाज से जुड़ी ऐसी तीन खासियत बताएंगे जो धोनी को विश्व क्रिकेट के साथ-साथ आईपीएल में भी सर्वश्रेष्ठ फिनिशर बनाती हैं।

डेथ ओवरों में MS Dhoni को कोई तोड़ नहीं

MS Dhoni

जैसा कि एम एस धोनी (MS Dhoni) का हर एक प्रशंसक जानता है कि वह मैच को अंतिम ओवरों तक लेकर जाना काफी पसंद करते हैं। क्योंकि उन्हें खुद की काबिलियत पर काफी भरोसा है और शायद इसलिए आईपीएल में कई बार देखा भी गया है कि जब-जब धोनी मैच को डेथ ओवरों तक लेकर गए हैं उन्होनें मैच को खुद के दम पर खत्म किया है। धोनी के इस फिनिशिंग रिकॉर्ड का अंदाजा आप उनके स्ट्राइक रेट से ही लगा सकते हैं जहां धोनी का स्ट्राइक रेट डेथ ओवरों में 188 का रहा है जो कि आईपीएल में अन्य बल्लेबाजों के मुकाबले सबसे ज्यादा है।

20वें ओवर के माहिर MS Dhoni

MS Dhoni

आईपीएल में डेथ ओवरों के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) पारी के अंतिम यानी 20वें ओवर में गेंदबाजों के लिए और भी ज्यादा मुसीबत बन जाते हैं। बेशक कोई भी बड़े से बड़ा गेंदबाज धोनी को 20वें ओवर में गेंदबाजी कर ले लेकिन पलड़ा हमेशा धोनी का ही भारी रहता है और इस गेंदबाज भी काफी अच्छे से जानते हैं। इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि माही पारी के आखिरी ओवर में 246 के स्ट्राइक रेट और 30 के औसत से रन बनाते हैं। इससे आप अब खुद अंदाजा लगा सकते हैं कि क्यों धोनी को सर्वश्रेष्ठ फिनिशर कहा जाता है।

गेंदबाजों की लाईन लेंथ बिगाड़ने में माहिर MS Dhoni 

MS Dhoni

एम एस धोनी (MS Dhoni) एक ऐसा नाम जो दिग्गज गेंदबाज को दबाव में लाने की काबिलियत रखता है, ऐसा हम खुद नहीं कह रहे बल्कि धोनी की काबिलियत इस बात को खुद ब खुद बयां कर रही है। जहां आईपीएल में कई बार देखा गया है कि सामने वाली टीम के गेम प्लेन को खराब करते हुए धोनी ने कई आतिशी पारियां खेली हैं। इसका एक अच्छा खासा उदाहरण आईपीएल 2022 में ही देखने को मिला था।जहां मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेले गए मैच में पारी के अंतिम ओवर में सीएसके को 17 रनों की जरूरत थी उस दौरान धोनी ने अपने फिनिशिंग अंदाज में इस मैच को खत्म किया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular